इंसानी मांस खाने का शौकीन था ये राष्ट्रपति! इसके 'फ्रिज से मिले थे ढ़ेर सारे इंसानी सिर' - Wah India Wah

Friday, April 7, 2017

इंसानी मांस खाने का शौकीन था ये राष्ट्रपति! इसके 'फ्रिज से मिले थे ढ़ेर सारे इंसानी सिर'


अमीन ने अपने पैलेस की तकरीबन सभी खूबसूरत लड़कियों को अपनी हवस का शिकार बनाया। कहा जाता है कि अमीन इंसानों का मांस खाने का शौकीन था और इसके सबूत भी मिले थे, उसके फ्रिज से बहुत सारे इंसानों के सिर बरामद हुए थे।



युगांडा का तानाशाह ईदी अमीन को बेहद क्रूर शासक के तौर पर याद किया जाता है। इस शख्स ने 8 वर्ष तक राष्ट्रपति के तौर पर राज किया और लोगों पर इतने जुल्म किये कि सुनने वालों की रूह भी कांप जाये। इस शख्स ने सत्ता के लिए युगांडा के 1 लाख से ज्यादा निर्दोष लोगो को मौत के घाट उतारा था।  क्रूर शासक ने अपने पैलेस की तकरीबन सभी खूबसूरत लड़कियों को अपनी हवस का शिकार बनाया। कहा जाता है कि अमीन इंसानों का मांस खाने का शौकीन था और इसके सबूत भी मिले थे। उसके फ्रिज से बहुत सारे इंसानों के सिर बरामद हुए थे। 

अमीन को इन नामो से भी जाना जाता है...
अमीन का जन्म 1925 में कोबोको में हुआ था। ईदी अमीन को “अमीन दादा ” , “बुचर ऑफ़ अफ्रीका ” और “ब्रिटिश साम्राज्य के विजेता” जैसे नामो से पुकारा जाता रहा है जो कि उसकी तानशाही को प्रमाणित करते है। इसके पीछे जायज वजह भी थी। अमीन आमतौर पर लोगों की हत्या के लिए हथियारों की इस्तेमाल नहीं करता था। उसने कुछ को जिंदा जमीन में गड़वा दिया और कुछ बचे लोगों को अपने भूखे मगरमच्छों को खिला दिया। अमीन ने युगांडा पर करीब आठ साल तक राज किया और लोगों पर जमकर जुल्म ढाया। 

अमीन की 8 साल की तानाशाही का अंत ऐसे हुआ...
1979 में जब तंजानिया और अमीन विरोधी युगांडा सेना ने धावा बोला, तब अमीन की आठ साल की तानाशाही का अंत हुआ। हालांकि, इससे पहले अक्टूबर 1978 में अमीन ने तंजानिया पर असफल हमले की कोशिश की थी। अमीन ने देश छोड़ने के बाद कुछ समय लीबिया में शरण ली। फिर वो सऊदी अरब में बस गया जहां 16 अगस्त, 2003 को अमीन की मौत हुई।

No comments:
Write comments


Find Us On Facebook